ग्रहो के युवराज बुध देव

बुध ग्रह

image

1) बुध ग्रह राजकुमार है।

2) राशि स्वामी – मिथुन और कन्या राशी

3) दृष्टि – 7th भाव पर

4)उच्च राशी  -कन्या राशी उच्चतम डिग्री @15 डिग्री कन्या राशी

5) नीच राशि –  मीन राशी, निचतम डिग्री 15डिग्री मीन राशी

6) बुध की मूलत्रिकोना राशि 16 से 20 डिग्री कन्या राशी है। मिथुन राशी और शेष कन्या राशी अपना राशी है।

7) बुध एक राजसिक (रजो) गुण वाला ग्रह है।

8) बुध वैश्य  जाति (वर्ण )के अंतर्गत आता है।

9) बुध एक भू तत्व प्रधान ग्रह है।

10) बुध जीव के अंतर्गत आता है (पशु / जीवित चीजों)।

11) बुध  पक्षी की तरह उड़ान प्राणियों (अधिक) का स्वामी है।

12) बुध भाषा, मानसिकता, त्वचा, संचार, मित्र, सोच का कारक ग्रह है।

13) बुध बुधवार दिन का स्वामी है।

14) आयु-
आयु अवधि -5 के 14 साल,
परिपक्वता आयु – 32 साल,
व्यक्तिगत आयु – युवा व्यक्ति

15) दोष- वात्त, पित्त, कफ

16) शरीर के अंग- त्वचा,कुल्हो

17) वस्त्र -स्वच्छ वस्त्र

18) रंग- घास के समान हरा

19) दिशा-उत्तर

20) दूरी-  मध्यम (8 योजन)

21) स्वाद -मिश्रित स्वाद

22) पुष्प – / हरा फूल / जंगली फूल फूल-पत्तियां

23) वृक्ष – बिना फल वाले पेड़ / छोटे पेड़ / खाद्य जड़ जो फल में प्रयोग किया जाता है/ खास कर हरा दूव की घास

24) खाद्य भोजन- हरा मूंग ,और अन्य हरी खाद्य वस्तु

25) आकार – त्रिभुजाकार

26) किनारे से निकल जाने की प्रवृति

27) कद – छोटा कद

28) धातु – पीतल और रत्न- पन्ना

29) उदय विधि- सिरसोदय विधि

30) नीति – भेद नीति

31) संबधि – मामा, मित्र

32) मौसम – शरद

33) लिंग – नपुंसक

34) संगत -बुध कारीगरों / कुशल / ट्रिकी लोगों के साथ संगत देना

35) स्वाभव – अस्थिर और बहुमुखी

36) मित्र ग्रह – सूर्य और शुक्र

37) तटस्थ ग्रह -मंगल,बृहस्पति, शनि

38) शत्रु- चंद्रमा

39) रोग – मानसिक समस्या, (बुद्धि समस्या), त्वचा की समस्या, स्नायु समस्या

40) स्थान – खेल कूद की जगह, बिना हिंसा वाले खेल मैदान, पार्क, स्टेडियम, खेल का मैदान, व्यापारिक जगह, परिवहन जगह, सामुदायिक जगह, संचार से संबंधित क्षेत्र, प्रकाशन स्थान, किताब की दुकान, पुस्तकालय, सार्वजनिक विधानसभाओं, डाकघर, हवाई अड्डे, स्टेशन, टेलीग्राफ जगह, लेखा कार्यालय, बैंक कार्यालय, सार्वजनिक क्षेत्र की जगह जहां कोई हिंसा न हो

41) मनोविज्ञान- बुद्धिमानी, कौशल, चतुराई, मानसिक क्षमता, समझदारी कौशल, मौखिक क्षमता, अलगाव,अनैतिकता, अवसरवादिता, स्मार्ट

42) पेशे – ज्योतिष, कारीगर , गणितज्ञ, काव्य  लेखक और ऐसे लेखांकन , प्रकाशन, पुस्तक से संबंधित काम, बैंकिंग से संबंधित नौकरियों, लिपिक नौकरियों, अध्ययन के रूप में संबंधित काम ,लेखन से संबंधित काम ,वक्ता, मास्टर ऑफ बिजनेस(M.B.A.) से संबंधित कार्य, शिक्षण, पवित्र और मौखिक ज्ञान, संख्या से सम्बन्धित,धोखाधड़ी से काम, चतुराई से सम्बन्धित काम , मंत्र की पुनरावृत्ति, संचार / भाषण / त्वचा / सोच /मन से संबंधित अन्य काम

43)देवता-महा विष्णु

44) समय की अवधि – एक रितु (2 महीने के आसपास)

45) दसावतार- बुद्ध अवतार

If you want to read this post in English then click this.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *