Month: February 2020

कुंडली के पंचम भाव में सूर्य का प्रभाव

कुंडली के पंचम भाव में सूर्य का प्रभाव 1) कुंडली के पंचम भाव में सूर्य के प्रभाव को जानने के लिए सर्वप्रथम हम सूर्य और पंचम भाव के कारकत्व का अध्ययन करेंगे। 2) पंचम भाव संतान से संबंधित होता है। सूर्य पंचम भाव में संतान के संबंध में अच्छा नहीं माना जाता है, यदि सूर्य …

कुंडली के पंचम भाव में सूर्य का प्रभाव Read More »

कुंडली के चतुर्थ भाव में सूर्य का प्रभाव

कुंडली के चतुर्थ भाव में सूर्य का प्रभाव 1)कुंडली के चतुर्थ भाव में सूर्य के प्रभाव को जानने से पहले हमें सूर्य और चतुर्थ भाव के सिग्निफिकेंट को या कारकत्व को जानना चाहिए। 2) सूर्य को चतुर्थ भाव में कोई दिग्बल प्राप्त नहीं होता है अतः हम यह कह सकते हैं कि सूर्य चतुर्थ भाव …

कुंडली के चतुर्थ भाव में सूर्य का प्रभाव Read More »

कुंडली के तृतीय भाव में सूर्य का प्रभाव

कुंडली के तृतीय भाव में सूर्य का प्रभाव 1) कुंडली के तृतीय भाव में सूर्य के प्रभाव को जानने से पहले हमें सूर्य और तृतीय भाव के कार्यक्रम के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए। 2)तृतीय भाव जातक के छोटे भाई के बारे में शारीरिक और मानसिक क्षमता के बारे में और संवाद और …

कुंडली के तृतीय भाव में सूर्य का प्रभाव Read More »

कुंडली के द्वितीय भाव में सूर्य का प्रभाव

कुंडली के द्वितीय भाव में सूर्य का प्रभाव 1) सूर्य के द्वितीय भाव में प्रभाव जानने के पहले आप एक बार सूर्य और द्वितीय भाव के कार्यक्रम के बारे में जानकारी जरूर प्राप्त कर ले । 2)सूर्य द्वितीय भाव में हमारी वाणी हमारे चेहरे और हमारे संचित धन और परिवार या फैमिली  पर प्रभाव डालता …

कुंडली के द्वितीय भाव में सूर्य का प्रभाव Read More »

कुंडली के प्रथम भाव में सूर्य का फल

कुंडली के प्रथम भाव में सूर्य का फल 1) सूर्य के प्रथम भाव में प्रभाव को जानने से पहले हमें सूर्य और प्रथम‌ भाव के बारे में जानना होगा। 2) प्रथम भाव हमारे शारीरिक बनावट से संबंधित है। सूर्य एक शुष्क ग्रह, लाल रंग तथा अल्प केश होता है। इसलिए जब सूर्य प्रथम भाव में …

कुंडली के प्रथम भाव में सूर्य का फल Read More »